सिवनी के खेरापति मंदिर में होती हैं मनोकामनाएं पूरी

 

अश्वनी मिश्रा की रिपोर्ट

सिवनी – जिले के अंतर्गत बरघाट की आष्टा में और सिवनी नगर के अंतर्गत भैरोगंज, कटंगी रोड काली मंदिर, सिवनी जिले का हृदय स्थल का दुर्गा मंदिर, काली चौक का काली मंदिर, बारापत्थर में मरहाई माता, अंबेडकर वार्ड में दुर्गा मंदिर और पूरे सिवनी नगर में एकमात्र मंदिर खेरापति माता का मंदिर जो कस्तूरबा वार्ड मंगलीपेठ पशु चिकित्सालय के पीछे स्थित मंदिर में विगत 30 से 35 वर्षों से जवारे का कार्यक्रम होता है। बताया जाता है कि इस मंदिर में जो भी भक्त अपनी मनोकामना लेकर आता है पूरी होती है और सब से आश्चर्य की बात यह है कि पूरे नगर पर मात्र खेरापति माता का मंदिर सिर्फ यही है और इस मंदिर में पूरे 12 से 12 महीने सुबह 8:30 बजे और रात्रि 9:00 बजे प्रतिदिन आरती होती है। नवरात्रा के चलते रोज शाम को कन्या भोजन के रूप में महाप्रसाद वितरण किया जाता है।

*86 कलशों के साथ 1 खप्पर कलश स्थापित*

इस वर्ष इस मंदिर में 86 कलश और 1 खप्पर कलश रखी गई है और यह हर साल की तरह इस साल भी तीज के दिन स्थापना की जाती है और विसर्जन के पश्चात विशाल भंडारे का आयोजन किया जाता है। मंदिर की सभी समिति के सदस्यों और मोहल्ले वासियों का इस कार्यक्रम में तन मन धन से सहयोग करते हैं और कार्यक्रम को सफल बनाने में सबका सहयोग रहता है।