अंततः छपारा उत्कृष्ट विद्यालय से लगे सैकड़ों अतिक्रमण हटाए गये

अंततः उत्कृष्ट विद्यालय से लगे सैकड़ों अतिक्रमण हटाए गये

प्रशासन की संयुक्त कार्रवाई से मचा हड़कंप कई ठेले और गुमठियां जप्त

 

अश्वनी मिश्रा की रिपोर्ट

सिवनी/छपारा – लंबे समय की शिकवा शिकायतों के बाद अंततः प्रशासन को अतिक्रमणकारियों पर कार्यवाही करना ही पड़ा। एनएच 7 स्थित उत्कृष्ट विद्यालय की बाउंड्री वॉल से लगकर बड़ी संख्या में अतिक्रमण कर लिया गया था जिसकी शिकायत जिला कलेक्टर को विद्यालय के प्राचार्य और स्थानीय बाशिंदों के द्वारा की गई थी उक्त शिकायत में बताया गया था बाउंड्री वाल के किनारे से किए गए अतिक्रमण से विद्यार्थियों की जान को खतरा बना हुआ है अतिक्रमणकारियों के द्वारा भारी मात्रा में बाउंड्री वाल के पास मलमा भरकर अतिक्रमण किया गया था जिससे बाउंड्री वाल टूटने की संभावनाएं बनी हुई थी जिस पर तहसीलदार के द्वारा सभी अतिक्रमणकारियों को पूर्व से नोटिस जारी करते हुए हटा लेने के लिए कहा गया था लेकिन इसके बाद भी अतिक्रमण कारी टस से मस नहीं हुए जिसके बाद शुक्रवार को दल बल के साथ पुलिस प्रशासन और राजस्व टीम और ग्राम पंचायत पहुंची जहां ताबड़तोड़ कार्यवाही करते हुए ठेले गुमटीओ को जप्त कर थाने पुलिस ले गई। बताया जाता है कि उक्त स्थान पर कई दबंग व्यक्ति और राजनीति में पकड़ रखने वाले लोगों के द्वारा उक्त शासकीय भूमि पर कब्जा कर अतिक्रमण किया गया था। जिस को हटाने के लिए कर लंबे अरसे से शिकवे शिकायत की जा रही थी लेकिन इस पर ध्यान नहीं दिया जा रहा था कलेक्टर ने इस पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए तहसीलदार के द्वारा उत्कृष्ट विद्यालय के आसपास फैले अतिक्रमण को हटाने के आदेश देकर यह कार्रवाई को अंजाम दिया गया है जिसमें कई अतिक्रमणकारियों के द्वारा कहा जा रहा है कि प्रशासन ने भरी बरसात में यह कार्रवाई की है बरसात के बाद भी कार्रवाई की जा सकती थी वहीं लोगों का कहना है कि इनके द्वारा रोजमर्रा की जिंदगी जी कर उक्त अतिक्रमण में लगाई दुकानों से परिवार का भरण पोषण कर रहे थे हटाने के बाद प्रशासन की ओर से कहीं भी उन्हें दुकान रखने और रोजगार चलाने के लिए कोई साधन मुहैया नहीं कराया गया है जिससे भी वहां के लोगों में आक्रोश देखा जा रहा है। फिलहाल इस कार्यवाही से विद्यालय के सभी विद्यार्थी और शिक्षक गणों में हर्ष का माहौल है उत्कर्ष विद्यालय के पास बने अतिक्रमण में दारु खोरी भी जमकर चल रही थी जिसको लेकर भी आए दिन शिकवे शिकायत होते रहते थे विद्यालय के परिसर में आए दिन दारू की बोतलें मिलती थी जिससे विद्यार्थियों को गलत असर भी पड़ रहा था इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए उक्त कार्रवाई के लिए मांग की जा रही थी।

सैंकड़ों लोग हुए बेरोजगार

जहां एक और अतिक्रमण हटाने से उत्कृष्ट विद्यालय ने राहत महसूस की है वहीं दूसरी ओर स्थानों पर अतिक्रमण करने वाले बेरोजगार भी हो गए जहां अपनी दुकानों से रोजमर्रा की जिंदगी का काम कर रहे थे
इस कार्यवाही में तहसीलदार नितिन गौड थाना प्रभारी राजन उईके ग्राम पंचायत सचिव बालकराम उईके समेत आर आई कन्हैयालाल शिवहरे पटवारी सुरेश साहू मौजूद रहे।