भीमगढ़ डैम हुआ लबालब 2 गेट और खोले गये, 4 गेटों से छोड़ा जा रहा पानी

अश्वनी मिश्रा की ग्राउंड जीरो से रिपोर्ट

सिवनी/छपारा (मप्र) – छपारा विकासखंड में स्थित एशिया के सबसे बड़े मिट्टी के बांध संजय सरोवर परियोजना भीमगढ़ डैम के आज सुबह 10 बजे 2 गेट और खोल दिये गये हैं। बता दें कि इसके पहले कल दिनांक 31 अगस्त को सुबह 11 बजे डैम के 2 गेट खोले गये थे। ज्ञात हो कि 3 वर्ष बाद भीमगढ़ डैम के गेट खोले जाने की नौबत आई है।

4 गेटों से छोड़ा जा रहा 10078 क्यूसेक पानी

पिछले कुछ दिनों से सिवनी जिले और छिंदवाड़ा जिले के अमरवाड़ा क्षेत्र में हो रही लगातार बारिश के चलते वैनगंगा नदी पर बने भीमगढ़ डैम में लगातार जलस्तर बढ़ने के चलते 31 अगस्त सुबह 11 बजे 2 गेट खोले गये थे। जिसके बाद डैम में लगातार जल भराव होने के कारण आज 1 सितंबर सुबह 10 बजे 2 गेट और खोले गये हैं। भीमगढ़ डैम में कुल 10 गेट हैं जिनमें से 5 और 6 नंबर के गेटो को 60-60 सेंटीमीटर तथा 4 और 7 नंबर के गेटो को 35-35 सेंटीमीटर खोला गया है। डैम के उक्त 4 गेटों से 10078 क्यूसेक प्रति सेकंड पानी छोड़ा जा रहा है। भीमगढ़ डैम के एसडीओ यूबी मर्सकोले ने बताया कि आज सुबह 11 बजे तक भीमगढ़ बांध का जलस्तर 518.40 मीटर बना हुआ है जो डैम के फुल टैंक लेवल (FTL) से सिर्फ 1 मीटर नीचे है।