ग्राउंट रिपोर्ट ने उड़ाई शिवराज की नींद, भाजपा के 100 से ज्यादा विधायकों पर टिकट का संकट …

Mp24 news

भोपाल। आगामी विधानसभा से पहले भाजपा हाईकमान द्वारा मप्र की जमीनी हकीकत टटोलने के लिए जो सर्वे कराया है,
उसमें भाजपा की हालत बेहद खराब है।
यदि पार्टी माजूदा 165 विधायकों के भरोसे फिर से 2018 का विधानसभा चुनाव लड़ती है
तो 100 से ज्यादा विधायको को हार का सामना करना पड़ सकता है।
सर्वे रिपोर्ट में 104 विधायकों पर सीधे तौर पर हार का खतरा बताया है।

जिनमें से शिवराज सरकार के आधे मंत्री भी शामिल है। खाास बात यह है
कि 70 विधायक तो ऐसे हैं, जिनका टिकट कटना लगभग तय हो चुका है।
जबकि 30 विधायकों को खराब परफार्मेंस के बावजूद भी टिकट मिल सकता है, *लेकिन उनकी जीत-हार का फैसला विपक्ष के प्रत्याशी चयन पर निर्भर करेगा।*
मप्र के जमीनी सर्वे के बाद भाजपा हाईकमान प्रत्यक्ष रूप से विधानसभा चुनाव में संगठन की कमान खुद संभालने की तैयारी में है।

चौदहवीं विधानसभा में भाजपा के 165 विधायक है। जबकि कांग्रेस के 57, बहुजन समाज पार्टी के 4 एवं निर्दलीय 3 विधायक है। 229 निर्वाचित विधायकों में से 113 विधायक पहली बार चुनाव विधानसभा पहुंचे हैं। खास बात यह है कि पहली बार चुनकर विधानसभा पहुंचने वाले भाजपा के 64 विधायक हैं। इनमें से करीब 40 से ज्यादा विधायकों पर हार का खतरा है।
हाईकमान की सर्वे में विधायकों की क्षेत्र में जनता पर पकड़ कमजोर हुई है।

इन विधानसभा सीटों पर हार का खतरा, कटेंगे टिकट

श्योपुर दुर्गालाल विजय

सुबलगढ़ मेहरबान सिंह रावत

जौरा सूबेदार सिंह रजौधा

भिंड नरेन्द्र सिंह कुशवाह

मेहगांव चौधरी मुकेश सिंह

ग्वालियर (ग्रामीण) भारत सिंह कुशवाह

ग्वालियर (पूर्व) माया सिंह (मंत्री)

गुना पन्नालाल शाक्य

बीना महेश राय

सुरखी पारूल साहू

सागर शैलेन्द्र जैन

बंडा हरवंश राठौर

टीकमगढ़ केके श्रीवास्तव

पृथ्वीपुर अनीता नायक

चंदला आरडी प्रजापति

बिजावर पुष्पेन्द्र नाथ पाठक

मलहरा रेखा यादव

पथरिया लखन पटेल

दमोह जयंत मलैया (मंत्री)

हटा उमा देवी खटीक

गुनौर महेन्द्र सिंह

रामपुर बघेलान हर्ष सिंह (मंत्री)

सेमरिया नीलम मिश्रा

त्योंथर रमाकांत तिवारी

सिंगरौली रामलल्लू वैश्य

देवसर राजेन्द्र मेश्राम

धौहनी कुंवर सिंह टेकाम

जयसिंह नगर प्रमिला सिंह

जैतपुर जयसिंह मरावी

अनूपपुर रामलाल रौतेल

मानपुर मीना सिंह

बरगी प्रतिभा सिंह

सिहोरा नंदनी मरावी

बिछिया पंडित सिंह धुर्वे

कटंगी केडी देशमुख

गोटेगांव कैलाश जाटव

नरसिंहपुर गोविंद सिंह पटेल

*छिंदवाड़ा चौधरी चंद्रभान सिंग*

चौरई रमेश दुबे

सौंसर नानाभाऊ मोहोड़

मुलताई केडी देशमुख

घोड़ाडोंगरी मंगलसिंह धुर्वे

होशंगाबाद डॉ सीता सरन शर्मा

सिवनी मालवा सरताज सिंह

पिपरिया ठाकुर दास नागवंशी

उदयपुरा रामकिशन पटेल

विदिशा कल्याण सिंह ठाकुर

शमशाबाद सूर्यप्रकाश मीणा (मंत्री)

बैरसिया विष्णु खत्री

सुसनेर मुरलीधर पाटीदार

शाजापुर अरुण भीमावद

सोनकच्छ राजेन्द्र फूलचद्र वर्मा

बागली चंपालाल देवड़ा

पंधाना योगिता बोरकर

नेपानगर मंजू राजेन्द्र दादू

बड़वाह् हितेन्द्र सिंह सोलंकी

जोबट माधो सिंह डावर

सरदारपुर वेलसिंह भूरिया

मनावर रंजना बघेल

धरमपुरी कालू सिंह ठाकुर

बदनावर भंवर सिंह शेखावत

देपालपुर मनोज पटेल

इंदौर 3 ऊषा ठाकुर

महिदपुर बहादुर सिंह चौहान

तराना अनिल फिरोजिया

घट्टिया सतीश मालवीय

उज्जैन दक्षिण मोहन यादव

बडऩगर मुकेश पंडया

सैलाना संगीता चारेल

गरोठ चंदर सिंह सिसौदिया

मनासा कैलाश चावला

*इन सीटों पर रहेगी कशमकश*

सुमावली नीटू सत्यपाल सिकरवार,

मुरैना रुस्तम सिंह (मंत्री)

ग्वालियर जयभान सिंह पवैया (मंत्री)

सेंवढ़ा प्रदीप अग्रवाल

भांडेर घनश्याम पिरौनिया

पोहरी प्रहलाद भारती

चाचौड़ा ममता मीणा

खुरई भूपेन्द्र सिंह (मंत्री)

नरयावली प्रदीप लारिया

निवाड़ी अनिल जैन

छतरपुर ललिता यादव (मंत्री)

पन्ना कुसुम महदेले (मंत्री)

सतना शंकरलाल तिवारी

मैहर नारायण त्रिपाठी

देवतालाब गिरीश गौतम

सीधी केदार शुक्ल

मुड़वारा संदीप जायसवाल

जबलपुर पूर्व अंचल सोनकर

जबलपुर उत्तर शरद जैन (मंत्री)

पनागर सुशील कुमार

निवास रामप्यारे कुलस्ते

वारासिवनी डॉ योगेन्द्र निर्मल

नरसिंहपुर जालम सिंह पटेल (मंत्री)

भोजपुर सुरेन्द्र पटवा (मंत्री)

संाची गौरीशंकर शेजवार (मंत्री)

सिलवानी रामपाल सिंह (मंत्री)

खरगौन बालकृष्ण पाटीदार (मंत्री)

सेंधवा अंतर सिह आर्य (मंत्री)

पेटलावद निर्मला भूरिया

इंदौर 4 मालिनी गौड़

मंदसौर यशपाल सिंह सिसौदिया

नीमच दिलीप सिंह परिहार

जावद ओमप्रकाश सखलेचा