Mp24news.in

मोदी का राष्ट्र के नाम संदेश : देखिये क्या कहा मोदी ने

आज रात 8 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस दौरान तमाम देशों के 42 लाख से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं। पौने तीन लाख से ज्यादा लोगों की दुखद मृत्यु हुई। भारत में भी अनेक परिवारों ने अपने स्वजन खोए, मैं सभी के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूँ , साथियों एक वायरस ने एक वायरस ने दुनिया को तहस-नहस कर दिया। विश्व भर में करोड़ों जिंदगी इस संकट का सामना कर रही है, सारी दुनिया जिंदगी बचाने में जंग में जुटी है पहले किसी ने ऐसा देखा नहीं ना ही सुना है । निश्चित तौर पर मानव जाति के लिए यह सब कुछ अकल्पनीय है। लेकिन हारना मानव को मंजूर नहीं है सतर्क रहते हुए ऐसी जंग के सभी नियमों का पालन करके हमें बचना भी है और आगे बढ़ना भी है। आज जब दुनिया संकट में है तब हमें अपना संकल्प और मजबूत करना है हमारा संकल्प है भारत को आत्मनिर्भर बनाना है। पिछली शताब्दी से ही लगातार सुनते आ रहे हैं कि 21वीं सदी हिंदुस्तान की हमें पहले दुनिया को बेसिक व्यवस्थाओं को विस्तार से देखने समझने का मौका मिला दुनिया में जो स्थितियां बन रही है उसे भी भारत के नजरिए से देखते हैं तो लगता है कि हमारा सपना ही नहीं यह हम सभी की जिम्मेदारी लेकिन विश्व की स्थिति हमें सिखाती है एक ही आत्मनिर्भर हमारे यहां शास्त्रों में कहा गया है कि रास्ता है आत्मनिर्भर साथियों एक राष्ट्र के रूप में इतनी बड़ी आपदा एक संदेश लेकर आई एक अवसर लेकर आई है । मैं उदाहरण तथा अपनी बात बताने का प्रयास करता हूं कोरोना संकट शुरू हुआ तब भारत में एक भी PPE kit नही थी। आज हम 2 लाख किट और मास्क बना रहे हैं। भारत की संस्कृति आत्मनिर्भर बनना सिखाता है , जो यह सिखाता है कि पूरे संसार के सुख और शांति की चिंता करती है। हमारी संस्कृति पूरे विश्व को परिवार मानती है , जो पृथ्वी को माँ मानती है , वो भारत भूमि जब आत्मनिर्भर बनती है तब सबके लिये सर्वोत्तम होता है।
हमारा भारत का भविष्य इन 5 पिल्लरों पर खड़ी है
1 अर्थव्यवस्था
2 इंफ्रास्ट्रक्चर
3 सृष्टि जो टेक्नोलॉजी पर आधारित हो
4 हमारी डेमोग्राफी
5 डिमांड या मांग ।
डिमांड बढ़ाने और पूरा करने के लिये हर एक स्टेकहोल्डर का मजबूत होना जरूरी है।
मोदी ने आर्थिक पैकेज की घोषणा की जो आत्मनिर्भर भारत अभियान की अहम कड़ी होगा । मोदी ने कहा कि हाल ही मै भारत ने जो भी घोषणायें की थी उन्हें ओर आज की दोनों पैकेज को जोड़ दें तो यह 20 लाख करोड़ का पैकेज होता है। यह पैकेज भारत को आत्मनिर्भर बनाने में मददगार सिद्ध होगा। इस पेकेज में हर प्रकार के उद्द्योगों को सम्मलित किया गया है। यह पेकेज श्रमिक, किसान , कुटीर उद्योग , लघु उद्योग , मध्यम वर्ग, उद्योग जगत , के लिये हैं।
कल आपको वित्त मंत्री द्वारा इसकी विस्तार से जानकारी दी जायेगी।

 

Covid19 World Wide Live Data

Click to know Live Status of Covid19