पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान पर, कोरोना काल में जनता पर महंगाई की मार

पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान पर, कोरोना काल में जनता पर महंगाई की मार

लॉकडाउन में केंद्र सरकार ने बढ़ाया पेट्रोल पर ₹13 और डीजल पर ₹16 टैक्स

अश्वनी मिश्रा की रिपोर्ट

भोपाल – पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों पर सरकार का नियंत्रण नहीं हो पा रहा है। कीमतों में आग ऐसी लगी है कि कम होने का नाम ही नहीं ले रही है। आज लगातार 19 वां दिन है जब पेट्रोल और डीजल के दामों में इजाफा हुआ है। दो दिन पहले तो भोपाल में देश में सबसे ज़्यादा महंगा पेट्रोल बिक रहा था।
भोपाल में 19 वें दिन पेट्रोल में प्रति लीटर 16 पैसे की बढ़ोतरी की गई, जबकि डीजल के दाम 13 पैसे बढ़े हैं। भोपाल में पेट्रोल अब ₹90 प्रति लीटर के करीब पहुंचता हुआ दिखाई दे रहा है। पेट्रोल के दाम प्रति लीटर ₹87 55 पैसे हो गए हैं। डीजल प्रति लीटर 79 46 पैसे हो गया है। 18 दिन में डीजल के दाम 18 बार बढ़कर ₹11.19 पैसे तक की वृद्धि कर चुके हैं। डीजल के दाम पेट्रोल के करीब पहुंचते हुए दिखाई दे रहे हैं।

लॉकडाउन और महंगाई की मार

लॉकडाउन में केंद्र सरकार पेट्रोल पर ₹13 और डीजल पर ₹16 टैक्स बढ़ा चुकी है। दरअसल सिर्फ पैट्रोलियम कंपनियां ही नहीं बल्कि केंद्र सरकार के पेट्रोल पर केंद्रीय कर लगाने के कारण दाम में इजाफा हो रहा है। लॉक डाउन के दौरान पेट्रोल पर केंद्रीय कर ₹13 बढ़ा जबकि इसी दौरान डीजल पर टैक्स में ₹16 का इजाफा किया गया। पेट्रोल पर लगने वाला कुल केंद्रीय शुल्क ₹32.98 पैसे है,जबकि डीजल पर 31.83 त पैसे शुल्क लग रहा है।

Covid19 World Wide Live Data

Click to know Live Status of Covid19