राज्यपाल को पत्रकारों के प्रतिनिधिमण्डल ने कांकेर में पत्रकारों के साथ हुए घटनाक्रम के संबंध में सौंपा ज्ञापन

_राज्यपाल ने श्री कमल शुक्ला से अनशन तोड़ने का किया आग्रह_

राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके से आज यहां राजभवन में पत्रकारों के प्रतिनिधिमण्डल ने मुलाकात कर कांकेर में पत्रकारों के साथ हुई मारपीट की घटना के संबंध में ज्ञापन सौंपा। राज्यपाल ने कहा कि मीडिया को लोकतंत्र का चौथा स्तंभ माना जाता है। आप सभी निडर होकर काम करें और जनसमस्याओं को सामने लाएं। राज्यपाल ने कहा कि पत्रकारों के द्वारा सुदूर एवं संवेदनशील क्षेत्र में कार्य कर शासन के समक्ष जिस प्रकार जनसमस्याओं को सामने लाया जाता है, वह सराहनीय है। साथ ही मीडिया के माध्यम से जनता तक शासन की कल्याणकारी नीतियां भी पहुंचती है। इस प्रकार मीडिया शासन और जनता के मध्य सेतु की भूमिका निभाते हैं।
राज्यपाल ने कहा कि आप लोगों के साथ न्याय होगा। कांकेर में पत्रकारों के साथ जो घटना घटित हुई है, इस संबंध में शासन से रिपोर्ट मंगाकर न्यायोचित और निष्पक्ष कार्यवाही की जाएगी और दोषियों को कड़ा से कड़ा दंड दिलाया जाएगा। राज्यपाल ने पत्रकारों से समस्त घटनाक्रम की जानकारी ली। राज्यपाल ने श्री कमल शुक्ला से उनकी स्वास्थ्यगत परिस्थितियों एवं कोविड-19 के संक्रमण के मद्देनजर उनसे अनशन तोड़ने का आग्रह किया।

एमपी 24 न्यूज़ से देवेंद्र वर्मा की रिपोर्ट.. 9827431008,7987828116

Covid19 World Wide Live Data

Click to know Live Status of Covid19